Dosti Shayari Top Collection In Hindi Friendship Shayari (Update)

Dosti Shayari Top Collection In Hindi Friendship Shayari



Dosti Shayari Top Collection In Hindi Friendship Shayari,हिंदी लवशायरी Hindi Love Shayari attitude quotes whatsapp status Hindi Shayari Sad Shayari whatsapp quotes Dosti Shayari



Dosti Shayari



फूल बनकर मुस्कुराना जिन्दगी है
मुस्कुरा के गम भूलाना जिन्दगी है
मिलकर लोग खुश होते है तो क्या हुआ
बिना मिले दोस्ती निभाना भी जिन्दगी है


साहिल पर खड़े-खड़े हमने शाम कर दी
अपना दिल और दुनिया आप के नाम कर दी
ये भी न सोचा कैसे गुज़रेगी ज़िंदगी
बिना सोचे-समझे हर ख़ुशी आपके नाम कर दी।


दोस्ती हर चहरे की मीठी मुस्कान होती है
दोस्ती ही सुख दुख की पहचान होती है
रूठ भी गऐ हम तो दिल पर मत लेना
क्योकि दोस्ती जरा सी नादान होती है
!!!

Dosti Shayari Top Collection In Hindi Friendship Shayari
Dosti Shayari Top Collection In Hindi Friendship Shayari


दोस्ती का रिश्ता दो अंजानो को जोड देता है
हर कदम पर जिन्दगी को नया मोड देता है
सच्चा दोस्त साथ देता है तब
जब अपना साया भी साथ छोड देता है.

गुनाह करके सज़ा से डरते हैं
जहर पी के दवा से डरते हैं
दुश्मनों के सितम का खौफ नहीं
हम तो दोस्तों की वफ़ा से डरते हैं

दोस्तों की कमी को पहचानते है हम
दुनियाँ के गमों को भी जानते है हम
आप जैसे दोस्तों के ही सहारे
आज भी हँस कर जीना जानते है हम

एक हसीन पल की जरूरत है हमें
बीते हुए कल की जरूरत है हमें
सारा जहाँ रूठ गया हमसे
जो कभी ना रूठे ऐसे दोस्त की जरूरत है हमें

कुछ सालों बाद ना जाने क्या होगा
ना जाने कौन दोस्त कहाँ होगा
फिर मिलना हुआ तो मिलेगे यादों में
जैसे सूखे हुए गुलाब मिले किताबों में.

क्युँ मुश्किलों में साथ देते हैं दोस्त
क्युँ गम को बांट लेते है दोस्त
ना रिश्ता खून का ना रिवाज से बंधा
फिर भी जिन्दगी भर साथ देते हैं दोस्त

दिल टूटना सजा है महोब्बत की
दिल जोडना अदा है दोस्ती की
माँगे जो कुर्बानी वो है महोब्बत
जो बिन माँगे हो जाऐ कुर्बान
वो है दोस्ती हमारी

दिल में तुम्हारे अपनी कमी छोड जाऐंगे
आँखों में इंतज़ार की लकीर छोड जाऐंगे
याद रखना मुझे ढूँढते फिरोगे एक दिन
जिन्दगी में देस्ती की कहानी छोड जाऐंगे.

हर एक मोड पे हम गिरते थे किसी ने भी ना हमको उठाया था
तब तूने ही सनम एक उमीद का दिया जलाया था
अपने हर एक गम को छुपाकर मुझे जीना सिखाया था

ये दोस्ती चिराग है जलाऐ रखना ये दोस्ती खुशबु है महकाऐ रखना
हम रहें हमेशां आपके दिल में
हमेशां इतनी जगह बनाऐ रखना

नैनो मे बसे है ज़रा याद रखना
अगर काम पड़े तो याद करना
मुझे तो आदत है आपको याद करने की
अगर हिचकी आए तो माफ़ करना

एक मुलाक़ात करो हमसे इनायत समझकर
हर चीज़ का हिसाब देंगे क़यामत समझकर
मेरी दोस्ती पे कभी शक ना करना
हम दोस्ती भी करते है इबादत समझकर.

सवाल तेरे मेरे दर्मियान बाकी है
नही अभी तो नही खत्म ज़िन्दगी होगी
अभी तो मेरे कई इम्तिहान बाकी है !
सुबूत इसके सिवा दोस्ती का क्या दूँ मै
अभी तो चोट के गहरे निशान बाकी है ! जो एक आसमाँ टूट भी गया है तो क्या
अभी तो सर पे कई आसमान बाकी है!!!!

तनहा जब दिल होगा
आपको आवाज दिया करेंगे
रात को सितारों से आपका ज़िकर किया करेंगें
आप आऐं या ना आऐं हमारे ख्वाबो में
हम बस आपका इंतज़ार किया करेंगे

निगाहें बदल गयी अपने और बेगाने की
तू न छोड़ना दोस्ती का हाथ
वरना तम्मना मिट जायेगी कभी दोस्त बनाने की ||

हम दोस्त बनाकर किसी को रुलाते नही
दिल में बसाकर किसी को भुलाते नही
हम तो दोस्त के लिए जान भी दे सकते हैं
पर लोग सोचते हैं की हम दोस्ती निभाते नहीं

जिन्दगी आप बिन उलफत सी लगती है
एक पल की जुदाई मुदत सी लगती है
पहले तो ऐहसास था पर अब यकीन है
हर लम्हा आपकी जरूरत सी लगती है

याद आते है तो ज़रा खो लेते हैं
आँसू आँखो मे उतर आऐ तो ज़रा रो लेते हैं
नींद आँखो मे आती नहीं लेकीन
आप ख्वाबो में आऐं यही सोच कर सो लेते हैं

आँखों मे प्यास हुआ करती थी
दिल में तुफान उठा करते थे
। लोग आते थे गज़ल सुनने को
हम तेरी बात किया करते थे
। सच समझते थे सब सपनो को
रात दिन घर में रहा करते थे
। किसी विराने में तुझसे मिलकर
दिल में क्या फुल खिला करते थे
। घर की दिवार सजाने की खातिर
हम तेरा नाम लिखा करते थे
। कल तुझ को देखकर याद आया
हम भी महोब्बत किया करते थे
। हम भी महोब्बत किया करते थे